देशभक्ति पर शायरी, देशप्रेम शायरी हिंदी (Desh Bhakti Shayari)


देशभक्ति शायरी, देश प्रेम शायरी


WowGazab पर हम आपके लिए लेकर प्रस्तुत कुछ देशभक्ति शायरी जिन्हें पढ़कर आप देशभक्ति से भर उठेंगे और आप इन्हें स्वतंत्रता दिवस (Independence Day Wishes Shayari), गणतन्त्र दिवस (Republic Day Shayari), सेना दिवस (Army Day Shayari) पर Social Sites पर शेयर कर सकते है ।


 देशभक्ति शायरी हिंदी में


जिन्हें है प्यार वतन से,
वो देश के लिए अपना लहू बहाते हैं,
भारत माँ के चरणों में अपना शीश चढ़ाकर,
देश को आजाद कराते हैं,
देश के लिए हँसते-हँसते अपनी जान लुटाते हैं,
देश के लिए जो मर मिटते है,
वो देशभक्त कहलाते है...।
जय हिन्द !!

• 15 अगस्त के 15 रोचक तथ्य (Facts About Independence Day)
• 15 अगस्त वॉलपेपर व फोटो डाउनलोड (Happy Independence Day Wish Wallpapers)

जब आँख खुले तो धरती हिन्दुस्तान की हो,
जब आँख बंद हो तो यादेँ हिन्दुस्तान की हो,
हम मर भी जाए तो कोई गम नही लेकिन,
मरते वक्त मिट्टी हिन्दुस्तान की हो।

देशप्रेम शायरी इन हिंदी

फना होने की इज़ाजत ली नहीं जाती,
ये वतन की मोहब्बत है जनाब पूछ के की नहीं जाती…!

जय हिंद, वंदे मातरम्


आओ झुक कर सलाम करें उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होते है वो खून जो
देश के काम आता है ।

जय हिंद, वंदे मातरम्

15 अगस्त पर शायरी


सरहद की हर हद पर तुम हो,
दुश्मन की हर जिद्द पर तुम हो,
लेते जो स्वतन्त्र सांस हम,
उस हर सांस के रक्षक तुम हो ।

जय हो, जय भारतीय सेना, जय हिंद...


देशभक्तों के बलिदान से,
स्वतंत्र हुए है हम,
कोई पूछे कौन हो,
तो गर्व से कहेंगे हम
भारतीय है हम, भारतीय है हम ।

जय हिंद...

स्वतंत्रता दिवस शायरी हिंदी

हर किसी के दिल पे एक दास्ता लिख जाऊंगा,
जाते जाते में जमी को आसमां लिख जाऊंगा,
अगर किसी ने देखा आंख भर के मेरे हिंद को,
सरहदों पर खून से हिन्दुस्तान लिख जाऊँगा...!! !! जय हिन्द !!


लिख रहा हूँ मैं अंजाम, जिसका कल आगाज आएगा,
मेरे लहू का हर एक कतरा इंकलाब लाएगा...!

सेना दिवस पर शायरी (Sena Divas Shayari)


चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं,
इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं,
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं,
कुर्बानी का जज्बा जिन्दा मेरे कफन में हैं...!


सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में हैं,
देखना हैं जोर कितन बाजू-ए-कातिल में हैं,
वक्त आने दे बता देंगे तुझे ए आसमां,
हम अभी से क्या बताएं क्या हमारे दिल में हैं...!

भारतीय सेना पर शायरी

मुझे ना तन चाहिए, ना धन चाहिए,
बस अमन से भरा यह वतन चाहिए,
जब तक जिन्दा रहूं, इस मातृ-भूमि के लिए,
और जब मरुँ तो तिरंगा कफ़न चाहिये...!

26 जनवरी पर शायरी


मैं भारतवर्ष का हरदम सम्मान करता हूँ,
यहाँ की चांदनी मिट्टी का ही गुणगान करता हूँ,
मुझे चिंता नहीं है स्वर्ग जाकर मोक्ष पाने की,
तिरंगा हो कफ़न मेरा, बस यही अरमान रखता हूँ ।


खूब बहती है, अमन की गंगा बहने दो…
मत फैलाओ देश में दंगा रहने दो…
लाल हरे रंग में ना बाटो हमको…
मेरे छत पर एक तिरंगा रहने दो...!

गणतंत्रता दिवस पर शायरी

ज़माने भर में मिलते हे आशिक कई ,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नहीं होता ,
नोटों में भी लिपट कर, सोने में सिमटकर मरे हे कई ,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नहीं होता


इस वतन के रखवाले हैं हम
शेर ए जिगर वाले हैं हम
मौत से हम नहीं डरते
मौत को बाँहों में पाले हैं हम

Saheedo Par Shayari


सीने में जूनून और आँखों में देशभक्ति की चमक रखता हूँ !
दुश्मन की सांसे थम जायें, आवाज में इतनी धमक रखता हूँ !!
.....भारतीय सेना जिंदाबाद.....


हर वक़्त मेरी आँखों में धरती का स्वप्न हो ,
जब कभी मरू तो तिरंगा मेरा कफ़न हो ,
और कोई ख्वाहिश नहीं है ज़िन्दगी में ,
जब कभी भी जन्मु तो भारत मेरा वतन हो …!!

Desh Bhakti Shayari Hindi

तैरना है तो समंदर में तैरो नालों में क्या रखा हैं,
प्यार करना है तो देश से करो औरों में क्या रखा हैं..!!

Desh Prem Shayari Hindi

इश्क़  तो करता है हर कोई ,
महबूब पे मरता है हर कोई ,
कभी वतन को महबूब बना कर देखो ,
तुझ पे मरेगा हर कोई ….!!
हम आपको आगे भी Sena Divas Par Hindi Shayari, 15 August Shayari, 26 January Shayari उपलब्ध करवाते रहेंगे ।

हमारा Facebook Page लाईक करें, Twitter और Instagram पर हमें Follow करें ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ