ऐसा देश जहां सूर्य डूबता ही नहीं नॉर्वे Amazing Facts About Norway

हमारा Facebook Page लाईक करें, Twitter और Instagram पर हमें Follow करें


दोस्तों आज हम आपको बताएंगे यूरोप के बहुत सुंदर देश नार्वे के बारे में दोस्तों नार्वे को यूरोप के देशों में सबसे सुंदर और धनी देश माना जाता है और नार्वे की अद्भुत खूबसूरती आपको हैरान कर सकती है

ऐसा देश जहां सूर्य डूबता ही नहीं नॉर्वे Amazing Facts About Norway
ऐसा देश जहां सूर्य डूबता ही नहीं नॉर्वे Amazing Facts About Norway


 नार्वे यूरोप का पहला और विश्व का छठवां सबसे धनी देश है और नार्वे की. पर व्यक्ति आय भारत की 40 लाख से अधिक है और इसका ज्यादातर पैसा प्राकृतिक गैस तेल और खनिक  पदार्थों से आता है और मिडल ईस्ट यानी मध्य ईस्ट के बाद नार्वे मैं तेल का उत्पादन सबसे ज्यादा होता है

दोस्तों नार्वे यूरोप महाद्वीप में स्थित एक देश है जो कि पूरी तरह से नॉर्थ गोलार्ध में पड़ता है और उत्तरी गोलार्ध का झुका होने के कारण यहां साल के मई से जुलाई तक लगभग 76 दिनों तक सूर्य नहीं निकलता तब यहां दिन में सूर्य के 24 घंटे देखा जा सकता है

लाल किले के अजब गजब तथ्य (Facts About Red Fort in Hindi)

 नार्वे का नाम उन देशों में गिना जाता है जहां के लोगों का रहन सहन दुनिया में सबसे अच्छा माना जाता है और ग्लोबल इंडेक्स के मुताबिक नार्वे दुनिया का 11 सबसे शांतिपूर्ण और खुशहाल देश है और यहां की होने वाली अपराधों की मात्रा 4 प्रतिशत से भी कम है जोकि दिन-ब-दिन घटता ही जा रहा है अगर इसका कारण देखा जाए तो यहां की सरकार का मानना है की बुराई इंसान में नहीं बल्कि उनकी आदतों में होती है जिसकी शुरुआत एक मजबूरी से होती है इसलिए 1972 में नॉर्वे के कानून में परिवर्तन किया गया और सबसे बड़ी सजा के तौर पर मौत और उम्र कैद को हटाकर 21 साल तक की जेल को रखा गया


 दोस्तों नार्वे की जेल दुनिया के सबसे अच्छे जेल माने जाते हैं और नार्वे के जेलों में कैदियों को इंटरनेट और टीवी जैसी और कई अन्य सुविधाएं प्रदान की जाती हैं नार्वे यूरोप का छठवां सबसे बड़ा देश है नार्वे का कुल वर्ग फल 85203 वर्ग किलोमीटर है और इसकी राजधानी ओस्लो शहर है नार्वे में कुल शिक्षित लोगों की संख्या लगभग 99% से अधिक है जो कि काफी ज्यादा है और नार्वे ऐसा करने में सक्षम हो पाया क्योंकि यहां की सरकार हर व्यक्ति पर सालाना $14000 शिक्षा पर खर्च करती है


दोस्तों नार्वे एक ऐसा देश है जिसने प्रथम हो या द्वितीय किसी भी विश्व युद्ध में हिस्सा नहीं लिया और दूसरे विश्व युद्ध के दौरान यहां की 10 पुलिस ऑफिसर ही मारे गए नार्वे एक ऐसा देश है जो कि यूरोपियन यूनियन का औपचारिक सदस्य नहीं है दोस्तों नार्वे एक बहुत ही बड़ा तेल उत्पादक देश है और इसके बावजूद भी यहां पेट्रोल के दाम दुनिया में सबसे ज्यादा है यहां पर एक गैलन पेट्रोल का दाम 628 भारतीय रुपए हैं ऐसा इसलिए है क्योंकि यहां की सरकार चाहती है कि यहां के लोग अपनी गाड़ियों को छोड़कर पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करें ताकि पर्यावरण को कम से कम नुकसान पहुंचे नार्वे के कानून के मुताबिक अगर आप अपने घर में टीवी रखते हैं तो आप को उसकी लाइसेंस फीस भरनी होगी जो कि 30000 भारतीय रुपए के बराबर है नार्वे में किसी की भी कमाई किसी से छुपती नहीं क्योंकि यहां के टैक्स डिपार्टमेंट हर एक की कमाई को अपनी वेबसाइट पर डाल देता है

आपको यह बात जानकर शायद हंसी आएगी कि साल 2011 में नार्वे में मक्खन की कमी हो गई थी और उस समय यहां पर 250 ग्राम मक्खन की लगभग 50 अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गई थी अंत में यहां की स्थिति इतनी ज्यादा खराब हो गई कि देश में मक्खन की स्मगलिंग शुरू हो गई नार्वे के कानून के अनुसार आप शराब को नहीं दुकानों से खरीद सकते हैं जिनके नाम मेनू प्लेट होंगे नार्वे में स्थित लेवल ट्रेलर को दुनिया का सबसे लंबा सुरंग माना जाता है जिसकी लंबाई 24.5 किलोमीटर है नार्वे का नाम कुछ उन देशों में आता है जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र यानी यूनाइटेड नेशनल की स्थापना की जिन्होंने सन 1945 में की थी और संयुक्त राष्ट्र के पहले महासचिव नार्वे के ट्रिक बरेली थे नार्वे की कुल आबादी करीब 53 लाख है जिसमें करीब 75% लोग ईसाई धर्म का पालन करते हैं इसके अलावा यहां की 13% लोग नास्तिक हैं जो किसी भी धर्म का पालन नहीं करते इसके अलावा यहां की 2.5% लोग मुसलमान है जो इस्लाम धर्म का पालन करते हैं दोस्तों नार्वे की करंसी क्रोन है और यहां 1 क्रौन भारत का ₹8 और 11 पैसा होता है



तो दोस्तों आपको यह मेरा पोस्ट कैसा लगा अगर अच्छा लगा तो इस पोस्ट को अपने फेसबुक व्हाट्सएप पर शेयर जरूर करें और आगे हमें यह बताएं आप किस टॉपिक पर जानना पसंद करते हैं आप हमें कमेंट में जरूर बताएं हम उस टॉपिक पर पोस्ट जरूर लिखेंगे धन्यवाद

ये भी देखें ↓↓










एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ